उपलब्धियां

भारत के सर्वोच्च 10 प्रभावशाली पुलों में से 5 रेल-सह-सड़क पुलों का निर्माण बी बी जे द्वारा किया गया है । भारत के पास देशभर में विभिन्न प्रकार के पुलों का आश्चर्यजनक नेटवर्क नदी पुलों से लेकर समुद्र के पुलों तक तथा रेल पुलों से लेकर शहर के पुलों तक है । भारत के रेल सह सड़क प्रत्‍येक शहर को जोड़ने वाले भारतीय रेलवे एवं सड़क नेटवर्क के प्रमुख अंश है एवं एक ही साथ उनका संचालन भी करते हैं । भारत में कुछ रेल-सह-सड़क पुल हैं तथा असम एवं बिहार राज्य में दो निर्माणाधीन है ।

मुंगेर में गंगापुल: 3.46 किलोमीटर लंबा नदी पुल बख्तियारपुर एवं ताजपुर दो शहरों को जोड़ता है और साथ ही साथ दो राष्ट्रीय राजमार्ग एवं एनएच 80 तथा एनएच 31 को भी जोड़ता है । बिहार के मुंगेर में गंगा नदी के ऊपर रेल-सह-सड़क पुल बिहार राज्य का दूसरा सबसे बड़ा देश का तीसरा सबसे बड़ा पुल है ।

मेट्रो रेल परियोजनाएं:बी बी जे ने तीन प्रमुख मेट्रो रेल परियोजनाओं जैसे कोलकाता दिल्ली एवं मुंबई मेट्रो की ओर अपना बहुमूल्य योगदान दिया है ।

हावड़ा पुल / रवींद्र सेतु: बी बी जे ने अपनी शुरूआत में हुगली नदी के ऊपर कोलकाता और हावड़ा दो शहरों को जोड़ने वाले पहले कंटीलीवर सस्पेंशन तरह के पुल निर्माण का श्रेय हासिल किया है, जिसमें 26000 मे.ट. स्‍टील लगा है और 500 फीट सेंट्रल स्‍पैन के साथ लगभग 300 फीट की ऊंचाई पर बंधे एक खंभे पर खड़ा है ।

दूसरा हुगली पुल / विद्यासागर सेतु: विद्यासागर सेतुभारत का सबसे बड़ा केबिल स्‍टेड पुल है तथा एशिया के सबसे बड़ों में से एक है । जिसकी कुल लंबाई 823 मीटर (2700) फीट है । हुगली नदी के ऊपर निर्मित या दूसरा पुल है । इस पुल का नामकरण जाने-माने शिक्षाविद् पंडित ईश्वरचंद्र विद्यासागर के नाम पर किया गया है तथा इसको बनाने में 3.88 बिलियन भारतीय रुपए की लागत आई है |

बीबीयुएनएल के अधीन रोलिंग स्टॉक की उपलब्धियां:
# भारतीय रेल को 100,000 से अधिक रेलवे वैगनों की आपूर्ति की गई है । .
# नालको,एनडीडीबी,भारतीय रेल, ऑयल इंडिया, इंडियनऑयल तथा स्‍टील प्‍लांटों के लिए अल्‍युमीना, पेट्रोलियम, ऑयल, तरलीकृत गैस, दुग्‍ध, ऐसिड आदि के परिवहन हेतु विशेष वैगन ।
# भिलाई स्‍टील प्‍लांट के लिए 300 मेट तथा 250 मेट क्षमताओं के विशेष वैगन ।
# विदेशी रेलवे को लगभग 4,000 रेलवे वैगनों का निर्यात किया गया ।
# सीता रेल, आइवरी कॉस्‍ट को टैंक वैगनों का एवं माली को फ्लैट वैगनों का निर्यात किया गया ।
# म्‍यांमार रेलवे, म्‍यांमार को रेल गैंग कारों तथा मोनोब्‍लॉक व्‍हीलों का निर्यात किया गया ।

बीबीयूएनएल के अधीन नए विकास: बालको के लिए हाई प्रेसर बॉटम डिस्‍चार्ज वैगन (6 बार प्रेसर पर चलने वाले) । भारतीय बाजार में अपनी तरह का यह पहला वैगन है । इस उत्‍पाद की तकनालॉजी मेसर्स स्‍टैग, स्विटजरलैंड से प्राप्‍त की गई थी । इस प्रकार के चार वैगनों की आपूर्ति की गई ।

बीबीयूएनएल के अधीन रिफ्रैक्‍ट्री उत्‍पादों का क्रियान्‍वयन:
# स्‍टील प्‍लांट के लिए उच्‍च क्‍वालिटी वाले रिफ्रैक्‍ट्री उत्‍पाद – सर्वोच्‍च 1750 डिग्री सेण्‍टीग्रेड का ताप स्‍तर |
# उत्‍पादों में शामिल है मैग्नेसाइट, क्रोम मैग्नेसाइट, मैग्नेसाइट क्रोम एवं मैग्नेसाइट कार्बन ब्रिक्‍स, मूलभूत मोनोलिथिक्‍स सहित, जैसे कि रैमिंग मास, मोर्टार्स एवं कैस्‍टेबल्‍स – एकीकृत एवं लघु स्‍टील प्‍लांटों, सीमेण्‍ट उद्योगों, पेट्रोकेमिकल इंडस्‍ट्रीज एवं अन्‍य नॉन-फेरस उद्योगों के लिए ।

बीबीयूएनएल के अधीन टर्नकी परियोजनाओं का क्रियान्‍वयन: एनटीपीसी, आरसीएफ, नालको के लिए ऐश हैंडलिंग प्‍लाण्‍ट्स |

जाजपुर फ्लाईओवर: ईस्‍ट कॉस्‍ट रेलवे, भुवनेश्‍वर के अधीन रेलवे चेनेज किमी 342/3-4 (अप/डाउन लाइन) पर तत्‍कालीन हावड़ा-चेन्‍नई बड़ी लाइन के आर-पार जाजपुर-क्‍योंझर रोड तथा जाखापुरा स्‍टेशनों के बीच फ्लाईओवर के लिए एक 61मी स्‍पैन झलाईकृत थ्रू टाइप गर्डर का फैब्रिकेशन एवं इरेक्‍शन । प्रयुक्‍त स्‍टील की कुल मात्रा 230 मेट ।

काठजोड़ी पुल: ईस्ट कॉस्ट रेलवे, भुवनेश्‍वर के खुर्दा रोड डिवीजन में कटक - बरंग दोहरीकरण से संबंधित कार्य पुल सं 553(काठजोड़ी नदी) के ऊपर एम बीजी लोडिंग के अनुसार गर्डर के जरिए 16 x45.7 मीटर त्रिभुजाकारी ओपन वेब स्टील का फैब्रिकेशन असेंबली लॉन्चिंग । गर्डर के लिए प्रयुक्त कुल स्टील की मात्रा 1760 मे.ट. तथा ट्रॉली रिफ्युज , जांच सीढ़ी एवं हाथ की रेलिंग आदि के लिए 220 मे.ट. ।

गंडक पुल: पूर्व मध्य रेलवे महेंद्रु घाट,पटना के अधीन हाजीपुर एवं सोनपुर के बीच गंडक नदी पर 2 x18300 मीटर + 8x 76.200 म+4x18300मीटर के नए रेल पुल के स्टील सुपर स्ट्रक्चर का निर्माण । प्रयुक्त स्टील की कुल मात्रा 3000 मे.ट. ।

जल ढाका पुल: माथाभांगा एवं चापागुड़ी स्टेशन के बीच में 61.248 किलोमीटर पर जल ढाका नदी के ऊपर पुल नंबर 73 के सुपर स्ट्रक्चर के लिए ओपेन वेब के झलाईकृत स्‍टील गिर्डर के 24 x45.7 मी एमबीजी स्पेन की आपूर्ति ,फेब्रिकेशन, असेंबली एवं इरेक्‍शन एन एफ रेलवे के न्‍यु मयनागुड़ी से जोगीघोपा के लिए नई बड़ी लाइन के निर्माण के साथ एच-बीम स्‍ल्‍ीपरों के साथ ट्रैक की लिंकिंग सहित । प्रयुक्‍त स्‍टील की कुल मात्रा 2600 मेट ।

त्रिपुरा में ड्रेने: सार्वजनिक निर्माण विभाग,अगरतल्‍ला डिविजन के अधीन 1) वीरेंद्र क्‍लब के अलावा चौमुहानी तथा 2) बिदुरकर्ता चौमुहानी से कोलोनल चौमुहानी तक ड्रेन का निर्माण । कुल 3ण्‍5 कि.मी. |

तोर्सा पुल: कूचबिहार एवं चापागुड़ी स्टेशन के बीच में 78.51किलोमीटर पर तोर्सा नदी के ऊपर 95 नं पुल के सुपर स्‍ट्रक्‍चर के लिए ओपेन वेब के झलाईकृ‍त स्‍टील गिर्डर के 17 X 45.7 मीटर एमबीजी स्‍पैन की आपूर्ति, फैब्रिकेशन, असेंबलिंग,एवं इरेक्‍शन – पूर्वोत्‍तर सीमांत रेलवे मालीगांव की नई बड़ी लाइन के निर्माण के साथ एच-बीम स्लीपरों के साथ ट्रैक की लिकिंग सहित । प्रयुक्‍त स्‍टील की कुल मात्रा 1780 मे.ट. ।

महानंद पुल: पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे, मालीगांव के ओल्ड मालदा एवं मालदा टाउन स्‍टेशन के बीच में 16.17 किमी पर महानंदा नदी के ऊपर पुल नं 3 (डीएन ) के सुपर स्‍ट्रक्‍चर के लिए ओपेन वेब झलाईकृत स्‍टील गर्डर के 8 x 45.7 मी एमबीजी की आपूर्ति, फैब्रिकेशन, असेम्‍बलिंग एवं इरेक्‍शन – एच-बीम, स्‍लीपरों, ट्रॅाली रिफ्युजेज एवं पाथवे आदि सहित ।

वीआईपी रोड - कोलकाता फ्लाई ओवर: जेएनयूआरएम के अधीन के केस्‍टोपुर से जोड़ा मंदिर तक काजी नजरुल इस्लाम सरणी (वीआईपी रोड) के ऊपर चार लेन एलेवेटेड कॉरीडोर के लिए स्टील सुपर स्ट्रक्चर की आपूर्ति, फैब्रिकेशन एवं परिवहन । प्रयुक्त स्टील की कुल मात्रा 1100 मे.ट. ।

6x30 5 मीटर तथा 4 x 45.7 मीटर गिर्डरों का रेलवे इंजीनियरिंग वर्कशॉप, मनमाड(महाराष्ट्र) से तथा मुगलसराय(उप्र) से पुल नं 139,145,172 तथा 29 के लिए परिवहन और नए गर्डरों का इरेक्शन, पुराने गर्डरों को तोड़ना । न्यू जलपाईगुड़ी - न्यू बगाईगांव बड़ी लाईन के गेज परिवर्तन के संबंध में लोडिंग अनलोडिंग सहित ।

9 x 45.7 मीटर तथा 1 x 76.1 मीटर गर्डरों का मनमाड से पुल नंबर 2,95,132 तथा 52 के लिए परिवहन और नए गर्डरों को तोड़ना तथा न्यू जलपाईगुड़ी - न्यू बोंगाईगांव बड़ी लाइन के गेज परिवर्तन कार्य के संबंध में लोडिंग-अनलोडिंग सहित ।

292/9-14 किलोमीटर दूर 60 तोर्सा नदी के ऊपर पुल संख्या 227 (9 X 45.70 मीटर) के नए बीजी गर्डरों एमजी गिर्डरों की बदली एवं 45.7 मीटर स्‍पैन के बीजी गर्डरों का परिवहन, असेम्‍बलिंग तथा इरेक्‍शन, रंगाई सहित ।

न्यु जलपाईगुड़ी - न्यु बोंगाईगांव गेज परिवर्तन के संबंध में संकोश नदी पर पुराने एमजी गर्डरों को तोड़ना तथा 6 अदद 45.7 मी. स्पैन बीजी गिर्डरों का फेब्रिकेशन आपूर्ति एवं इरेक्शन ।

न्यु जलपाईगुड़ी - न्यु बोंगाईगांव गेज परिवर्तन के संबंध में रायडाक-।। नदी पर पुराने एमजी गर्डरों को तोड़ना तथा 5 अदद 45.7 मीटर स्पेन बीजी गर्डरों का फेब्रिकेशन, आपूर्ति एवं इरेक्शन ।

एकलाखी - बालुरघाट बड़ी लाइन के निर्माण के संबंध में ग़जोल एवं गंगारामपुर के बीच 7 X 30.48 मीटर स्पेन के पुनरभाबा नदी के ऊपर पुल नंबर 52 तथा 4 X 48 मीटर स्‍पैन के टांगन नदी के ऊपर पुल नंबर 45 पर ओपेन वेब स्टील गर्डर का फैब्रिकेशन, आपूर्ति, असेंबली एवं इरेक्शन ।

लुंबडिंग डिवीजन में लुंबडिंग – फुर्केटिंग (बड़ी लाईन) सेक्‍शन में भीलगांव व जामगुड़ी स्‍टेशनों के बीच 318/9-10 कि मी पर दोयांग नदी के ऊपर पुल न 331 के पुनर्निर्माण के संबंध में अन्य आनुषंगिक कार्य एवं ठीक पुल पर ट्रैक लिंकिंग सहित अद्यतन बदलाव के साथ ड्राइंग नंबर आरडीएसओ बीए 11 361 से बीए- 1137 के अनुसार 4 (चार) अदद 45X 70 मीटर क्लियर स्पैन बीजी गर्डरों की असेंबली इरेक्शन ।

दक्षिण पूर्व रेलवे, संबलपुर डिवीजन के ब्रुदांमल एवं लापंगा स्टेशनों के बीच बोनम नदी के ऊपर पुल नं 7, स्‍पैन 8 X 45.7 मी पर स्टील थ्रू टाइप ब्रिज गर्डर की आपूर्ति, फैब्रिकेशन, परिवहन, असेंबली इरेक्शन एवं लॉन्चिंग ।

भूटान में सरभंगखोला - एई तथा रोगांगचू नदियों के आर – पार तीन पुलों का निर्माण ।

पूर्व रेलवे, हावड़ा स्‍टेशन पर दूसरे कैब वे का निर्माण ।

तमलुक -- दीघा बीजी न्‍यु रेल संपर्क परियोजना पर विभिन्‍न पुलों के ऊपर 30.5 मी. थ्रू टाइप स्‍टील पुलों के 9 स्‍पैनों का परिवहन, असंबली , इरेक्‍शन तथा लांचिंग । तमलुक – दीघा न्‍यु बीजी संपर्क परियोजना पर विभिन्‍न पुलों में 4 अदद 45.7 मी. स्‍पैनों का इरेक्‍शन ।

तमलुक - दीघा न्‍यु बीजी संपर्क परियोजना पर पर हल्‍दी नदी के ऊपर 11 अदद 45.7 मी. स्‍पैन का इरेक्‍शन ।

दक्षिण रायपुर, नोआखाली, बजबज, पश्चिम बंगाल में इनटेक जेटी रा वाटर पंपिंग स्टेशन इलेक्ट्रिकल सब स्टेशन, सक्‍शन मेन , डिलीवरी मेन आदि का निर्माण ।

विवेकानंद सेतु कोलकाता के लिए जंग खाई स्टील मेंबरों एवं स्टील थ्रू की बदली सहित विपत्ति जनक स्टील मेंबरों की मरम्मत एवं मजबूतीकरण ।

शक्ति गढ़, पश्चिम बंगाल तथा सोननगर, बिहार में मेन लाइन के ऊपर 3 X 76.2 मीटर + 1 X 5.7 मीटर स्पैन स्टील पुल बिल्डरों का फेब्रिकेशन एवं इरेक्शन ।

उल्हास नदी के ऊपर 6 X 76.2 मीटर स्‍पैन पुलों का इरेक्शन ।

डेहरी ऑन सोन तथा मुगलसराय के बीच 9.85 मी. स्‍पैन पुलों का फैब्रिकेशन एवं इरेक्‍शन ।

डेहरी ऑन सोन तथा मुगलसराय के बीच18.5 मी. स्‍पैन पुलों का फैब्रिकेशन एवं इरेक्‍शन ।

बीना – कटनी सेक्‍शन, यूपी रोड पर रिवेटिंग सहित किमी 119/27 -37 पर कोपरा रिज के 3x 30.5 मी ओपन वेब थ्रू गिर्डर की असेंबली, इरेक्‍शन एवं लांचिंग ।

पूर्व रेलवे के धनबाद डिवीजन के अधीन कि मी 139/ 14-6 पर ओबरा बांध एवं पप्राकुंड के बीच पुल में 1 अदद 76.2 मी . दुर्घटना से नष्‍ट हुए स्‍पैन की बहाली ।

बंदरगाह एवं गोदी पर सिविल कार्य: बीबीजे सिविल निर्माण कार्य के लिए भारत के कई बंदरगाहों एवं गोदियों के साथ हमेशा जुड़ा हुआ है । उनमें से कुछ हैं – कोलकाता, मुंबई, कोचीन, पारादीप, हल्दिया आदि ।


पुरस्‍कार एवं प्रमाण पत्र देखें